akbar birbal story in hindi | akbar birbal hindi story - अकबर बीरबल की हिंदी कहानियां | बाघ की कहानी



akbar birbal story in hindi or akbar birbal hindi story - अकबर बीरबल की हिंदी कहानियां हम सब बचपन से सुनते आ रहे है। akbar birbal story - अकबर बीरबल की हिंदी कहानियां बहोत मशहूर है।  बीरबल अपने चतुर बुद्धि के कारन प्रसित्द्ध थे। बीरबल हर काम को बड़ी चतुराई के साथ पूरा करते थे। दोस्तों हिंदी Story Line आपके लिए लेकर आये है ऐसे ही मजेदार अकबर बीरबल की हिंदी कहानिया akbar birbal story in hindi। यह हिंदी कहानी को भी पढ़े। 

 बाघ की कहानी 


akbar-birbal-hindi-kahaniya
akbar-birbal-hindi-kahaniya
 एक बार  अकबर बादशाह की राज दरबार में ईरान के राजदूत पेश हो गए उन्होंने बादशाह सलामत को बताया कि मैं ईरान के शाह जान के तरफ से भेजे गए  तोहफे को आपके सामने पेश करने की इजाजत चाहता हूँ। अकबर बादशाह ने अनुमति दे दी  

akbar-birbal-hindi-kahaniya
akbar-birbal-hindi-kahaniya

ईरान के दूत ने कहा  पहेलियां बुझाने के सिलसिले में हमें आपके लिए एक नई चुनौती मिली है। फिर उसने भेजे गए तो फिर से पर्दा उठाया तो उसमें   एक बंद पिंजरे में एक शेर था उसे देखकर सारा दरबार चौक गया फिर  ईरान के  दूत ने कहा  चुनौती यह है कि जैसा कि आप देख रहे हैं पिंजरे में एक नकली शेर है आपको शेर को हाथ लगाए बिना  और पिंजरे को छुए बिना पिंजरा खाली करना है आपको तीन मौके मिलेंगे और हर एक आदमी को एक ही मौका मिलेगा मुझे यकीन है कि यह पहेली बुझाने में आपको बहुत मजा आएगा
चुनौती सुनते ही बादशाह अकबर सोच में पड़ गए  सारा दरबार  यह सोचने लगा पिंजरे को खाली कैसे किया जाए फिर बादशाह अकबर ने बीरबल से पूछा आपका क्या ख्याल है आपके पास इसका कोई सुझाव है?
 बीरबल ने  अकबर बादशाह से कहा जहांपना अगर आपकी इजाजत है तो मेरे पास एक सुझाव है राज दरबार में बैठे दूसरे मंत्री ने कहा हमें भी एक मौका मिलना चाहिए हर बार बीरबल को ही क्यों मौका मिलता है? बादशाह अकबर ने कहा आपकी बात सही है हम आप को भी एक मौका  देंगे और अकबर ने कहा बीरबल पहले वह मंत्री इस गुत्थी को सुलझाएगा बाद में तुम समझा देना बीरबल ने कहा जैसी आपकी आज्ञा जहांपना
akbar-birbal-hindi-kahaniya
akbar-birbal-hindi-kahaniya

 फिरोज दूसरे मंत्री ने  बादशाह अकबर से कहा जहांपना आज मैंने एक जादूगर को आपके मनोरंजन के लिए बुलाया है वह इस देश के सबसे बड़े जादूगर है मुझे पूरा यकीन है कि वह इसे जरूर  सुलझा देंगे अगर आपकी इजाजत हो तो मैं उन्हें दरबार में बुलाना चाहूंगा
 अकबर बादशाह ने जैसे ही अनुमति दे दी वैसे ही उस मंत्री ने बड़े जादूगर को राज दरबार में बुलाया जादूगर ने आते ही बादशाह अकबर को प्रणाम किया और अपने कर्तव्य से सारे राज दरबार का मनोरंजन किया शाबाश बादशाह अकबर ने उस जादूगर की प्रशंसा करते हुए कहा आप पिंजरे में शेर को देख सकते हैं और क्या आप बिना शेर और पिंजरे को छुए शेर को बाहर निकाल सकते हैं?
akbar-birbal-hindi-kahaniya
akbar-birbal-hindi-kahaniya
 जादूगर ने कहा जी हां जहांपना में जरूर कर सकता हूं बचा अकबर से अनुमति लेकर वह जादूगर पिंजरे की तरफ गया उसने ध्यान से पूरे पिंजरे को देखा और अपने साथी से कहा यह जादुई संदूक  खोलकर इसके अंदर बैठ जाओ   जादूगर ने कहा अपने साथी को इस जादुई संदूक में बिठाकर अपने जादू से इस को गायब कर देता हूं और उसकी जगह शेर पक्षी के अंदर जाएगा जादूगर ने बंद किया और कुछ  मंत्र बोलने लगा  
akbar-birbal-hindi-kahaniya
akbar-birbal-hindi-kahaniya

सारा दरबार उसे देखने लगा   जैसे ही जादू  वाला संदूक खोला गया उसमें जादूगर का साथी नहीं था। और अचानक से पिंजरे में से आवाज आने लगी बचाओ बचाओ पर्दा खुलते ही पिंजरे में जादूगर  का साथी था जादूगर ने कहा मुझे लगता है कि मैंने थोड़ी गलती कर दी मैं उसे आप भी ठीक कर देता हूं
 फिर से जादूगर मंत्र पढ़ने लगा ईरान से आए दूत ने कहा जहांपना किसी  को भी इस पहल के लिए एक से ज्यादा मौका नहीं दिया जाएगा
 उसके बाद अकबर बादशाह ने कहा बीरबल क्या आप कोशिश करना चाहोगे? फिर बीरबल  जैसे ही कुछ करने वाला था तभी दूसरे मंत्री ने कहा जहां बना मैं भी एक मौका चाहता हूं मैं एक ऐसा आदमी को जानता हूं कि वह  जरूर यह काम कर सकेगा बादशाह अकबर से अनुमति लेकर उस मंत्री ने उस आदमी को बुला लिया वह आदमी कई चमत्कार करने में माहिर था
akbar-birbal-hindi-kahaniya
akbar-birbal-hindi-kahaniya
 वह काली  का मंत्रिक दरबार में गया और उसने मंत्र पढ़ना शुरू कर दिया जैसे उसने मंत्र पढ़ने शुरू कर दिए वहां पर धुआ धुआ हो गया फिर उसने कहा पिंजरे से पर्दा हटा कर मेरी शक्ति  देखो जैसे ही पिंजरे से पर्दा हटा दिया वैसे ही वहां पर जो जादूगर का साथी था वह गायब हो गया और उसमें खाली  नकली शेर  बच गया
 बादशाह अकबर ने कहा क्योंकि अब सिर्फ एक ही मौका बचा हुआ है तो बीरबल आप इस गुत्थी को क्यों नहीं  सुलझा दे
 बीरबल ने बादशाह अकबर  आज्ञा लेकर  कहा जहांपनाह मुझे दो तपती हुई सलाखें चाहिए जैसे ही बीरबल ने कहा  उन्होंने  सलाखें लेकर  उस नकली शेर को पूरी तरह से पिघला दिया और  बादशाह अकबर से  कहा  गुत्थी को सुलझा दिया
akbar-birbal-hindi-kahaniya
akbar-birbal-hindi-kahaniya

बीरबल ने कहा शेर मोम का बना हुआ था और इस गुत्थी को सुलझाने के लिए यही समझना जरूरी था
ईरान से आए राजदूत ने कहा जहांपना आपके सभी रत्नों में से बीरबल बेशक सबसे कीमती रत्न है 
बादशाह अकबर ने कहा अपने फिर एक बार साबित कर दिया  कौन सी बी गुत्थी सुलझाने के लिए बुद्धि की आवश्यकता होती है

हिंदी कहानिया पढनेकेलिए यहाँ Click करे 


अकबर बीरबल हिंदी कहानिया- akbar birbal story in hindi

  1. ५ बेहतरीन अकबर बीरबल हिंदी कहानिया। - akbar birbal story in hindi
  2. पति को सबक | तानसेन की शर्त - akbar birbal story in hindi
  3.  अकबर बीरबल की हिंदी कहानियां | बीरबल को दंड | नन्हा साक्षीदार akbar birbal story in hindi
  4. अकबर बीरबल की हिंदी कहानियां | अकबर बादशाह की बीमारी | एक दांत का सपना akbar birbal story in hindi
  5. अकबर बीरबल की हिंदी कहानियां | छड़ी लगे छम छम | काझी की हुई फजीती akbar birbal story in hindi
  6. अकबर बीरबल की हिंदी कहानियां | हसन न्हाई akbar birbal story in hindi
  7. अकबर बीरबल की हिंदी कहानियां | एक शेर मांस akbar birbal story in hindi

तेनाली रमन की चतुराई 

No comments:

Powered by Blogger.